Breaking

Sunday, September 3, 2017

Fever and Runny Nose may sign swine flu (फीवर और लगातार नाक बहने को नहीं करे अवॉयड - स्वाइन फ्लू )

Fever and Runny Nose may sign swine flu (फीवर और लगातार नाक बहने को नहीं करे अवॉयड - स्वाइन फ्लू )

बारिश में स्वाइन फ्लू फीवर होना सामान्य है | स्वाइन फ्लू का वायरस इस साल बदलने की वजह से लोगो की डेथ हो रही है | डॉक्टर्स के मुताबिक, स्वाइन फ्लू को शुरुआती स्टेज पर दिएगनॉस करके इलाज शुरू कर दिया जाये तो पेशेंट की ज़िन्दगी बचाई जा सकती है | स्क्रब टायफस फीवर को भी कण्ट्रोल कर सकते है | डिपार्टमेंटल ऑफ़ एस एम एस मेडिकल कॉलेज प्रोफ़ेसर एंड हेड सीएल नवल बता रहे है, स्वाइन फ्लू और स्क्रब टायफस में लपरवाही नहीं बरती जाये व पेशेंट का इलाज़ संभव है |

कैसे पहचानें स्वाइन फ्लू

तेज फीवर होने के साथ साथ लगातार नाक बाह रही है| सामान्य फीवर का ट्रीटमेंट लेने के बाद 24 - 48 घंटे में रिलीफ नहीं आ रहा है | इसे स्वाइन फ्लू का लक्षण मानते हुए टेस्ट करवाने चाहिए|


1 ) सामान्य फ्लू में सर्दी खांसी और सामान्य बदन दर्द होता है | स्वाइन फ्लू में तेज बुखार , सर दर्द , उलटी का अहसास , डायरिया भी होता है |

2 ) सामान्य फ्लू के सिंटम धीरे धीरे बढ़ते है | स्वाइन फ्लू के सिंतम और तकलीफ बहुत जल्दी बढ़ते है |

3 ) सामान्य फ्लू में अक्सर सिर दर्द नहीं होता है | स्वाइन फ्लू के  80 % से ज्यादा मामलो में तेज सर दर्द भी होता हैं |

4 ) सामान्य फ्लू में आमतौर पे गले में खराश होती है| स्वाइन फ्लू में गले की खराश के बजाय चेस्ट मप्रोब्लेम ज्यादा होती है |

5 ) सामान्य फ़्लू के वायरस छोटे बच्चो , प्रेग्नेंट लेडीज , बुजुर्गो, हार्ट पेशेंट को ज्यादा प्रभावित करती है | इनके सिन्टैम्स को नज़र अंदाज़ नहीं करना चाहिए |

6 ) एक ही इलाके में इस तरह के सिन्टैम्स कई लोगो में नज़र आ रहे हो तो स्वाइन फ्लू फ़ैलने की सम्भावना ज्यादा हो सकती है |

7 ) अगर सर्दी खांसी, नाक बहना, चेस्ट प्रॉब्लम, सर दर्द , उलटी की प्रॉब्लम लगातार हो रही हो तो तुरंत डॉक्टर को दिखाए |

8 ) खासतौर पर इस वक़्त भीड़ भाड़ वाली जगह पे जाने से बचे | क्युकी बारिश क बाद ये वायरस ज्यादा फैलने लगते है |

9 ) इसके पेशेंट्स को भी ज्यादा बाहर निकलने से बचना चाहिए |

10 ) पेशेंट्स को सामान्य फ्लू क सिन्टम्स नज़र आते ही जाँच करवा कर ट्रीटमेंट लेंना चाहिए | अगर कोई भी पेशेंट 24 - 48 घंटो के अंदर ट्रीटमेंट लेता है तो उसके लिए ज्यादा असरदार होता है |

11 ) मास्क लगाए |


No comments:

Post a Comment